Manisha Rani biography in Hindi, Manisha Rani wikipedia, Manisha Rani ki jivni, Manisha Rani Age, height, weight, birth, family, education, career, boyfriend, marriage, Husbend, Net wort, who is manisha rani in bigg boss,manisha rani ki age kitni hai, manisha rani in hindi, How old is Manisha Rani, Manisha Rani dob, Manisha Rani wiki 

 मनीषा रानी जिन्हें आज कौन नहीं जानता? केवल बिग बॉस ही नहीं मनीषा अपने दम पर पहले से ही अपनी काबिलियत से वो मुकाम हासिल कर चुकी हैं, जहाँ उन्हें कहीं भी लोगों से अप्रोच लगवाने की या फिर अपना नाम सजेस्ट करने की जरूरत नहीं पड़ती। वो जो चाहती है वो उसे पा लेती है।

उनके रानी मुखर्जी से मिलती जुलती आवाज का आज हर कोई दीवाना है और उनका सेल्सोह्यूमर ऐसा है की अच्छे अच्छों के डायलॉग्स फेल करदे। पर मनीषा के इस मुकाम तक पहुंचने की जर्नी बिल्कुल भी आसान नहीं रही।

और उन्होंने बहुत छोटी उम्र से दिक्कतों का सामना किया। कुछ दिन तो ऐसे भी बीते जहाँ उनको ये तक लगता था कि नाचने के चक्कर में कहीं वो अपनी ज़िन्दगी ही ना गंवा बैठे। पर एक टाइम पर ₹500 के लिए डांस कटी थी वो आज एक फोटो पोस्ट करने के भी ₹40 हजार लेती है।

की वो इतनी यंग एज में घर की सारी बंदिशें तोड़कर इतना कुछ हासिल कर पाई, क्यों? वो कहती हैं कि उनकी माँ की जिंदगी तो झंड है ही तो हमारी भी कर गई। अपनी लाइफ में कितने बॉयफ्रेंड्स रख चुकी है? वो और कैसे उन्होंने गलत नीयत वाले आदमियों से खुद को बचाकर रखा? चलिए तो मनीषा रानी की अब तक की अनजानी कहानी जान लेते हैं।

मनीष रानी का जन्म और प्रारंभिक जीवन

मनीषा रानी का जन्म 10 जून 1994 को मुंगेर बिहार के एक गरीब फैमिली में हुआ था और वो जॉइंट फैमिली में रहा करती थीं, जहाँ उनका घर काफी खुले एरिया में बना हुआ था। पर उनके पिता मनोज कुमार के मनीषा के अलावा तीन और बच्चे थे और उनकी सैलरी अब जाकर ₹15 हजार महीना है।

 ऐसे में उनके लिए बच्चों की परवरिश करना काफी टफ रहा, क्योंकि मनीषा जब बस 5th में थी, तभी उनकी माँ कुछ पर्सनल और कुछ फैमिली रीज़न की वजह से घर छोड़कर अपने मायके चली गयी थीं।

मनीषा रानी का शुरुआती संघर्षशील जीवन

मनीषा की फैमिली में उनके अलावा उनकी एक बहन है और दो भाई हैं, जिनमें से एक भाई का नाम रोहित राज़ है। मनीषा के फादर ने उनकी माँ के छोड़कर चले जाने के बाद कभी दूसरी शादी नहीं की क्योंकि उनका मानना था कि कोई दूसरी औरत उनके बच्चों को वो प्यार नहीं दे पाएगी। इसलिए उन्होंने अकेले ही अपने चारों बच्चों की परवरिश की।

उनकी माँ के चले जाने के बाद मनीषा और उनकी सिस्टर ने काफी कम उम्र से अपने घर का सारा काम सम्भाला। इन्फैक्ट जब भी उनके गवर्नमेंट स्कूल में कोई फंगसन होते थे तो दूसरे बच्चे एन्जॉय करने के प्लैन्स बनाते थे। तो वही मनीषा और उनकी सिस्टर के दिमाग में सिर्फ खाना बनाना, झाड़ू, पोछा, बर्तन यही सब चलता था।

उनका बचपना काफी संघर्षशील रहा उनका और उनके दोनों भाई बहनों का और क्योंकि उनकी माँ भी खुश नहीं है। इसलिए वो कहती है की “माँ की जिंदगी तो झंड है ही, वो हम सबकी भी कर गयी।“

 

मनीषा रानी की आने जाने पर रोक टोक

बचपन से ही मनीषा का झुकाव एक्टिंग और डान्सिंग की तरफ था और उनके लाइफ को लेकर सपने बहुत बड़े थे। वो हमेशा ही अपने घर के पास होने वाले लोकल जैसे ही डांस कॉम्पिटिशन में हिस्सा लिया करती थी और हमेशा फर्स्ट ही आती थी। उनके पिता ने उन्हें हमेशा सपोर्ट भी किया और कभी पार्टिसिपेट करने को नहीं रोका। पर जब वो थोड़ी बड़ी हुईं और 11 क्लास में आई तब उनके चाचा और ताऊ जी उन्हें बहुत ज्यादा रोक टोक करने लगे। ना उन्हें घर के गेट पर खड़े रहने दिया जाता और छत पर जाने में भी उनकी डांट पड़ती। यानी काफी कंजरवेटिव सोच रही थी। उनके घर के परिवार की।

फिर जब मनीषा 12 क्लास में आई। तब उन्होंने अपने फादर से डांस इंडिया डांस में पार्टिसिपेट करने की इच्छा ज़ाहिर की। पर दूसरे लोगों की रोकटोक पर गुस्सा होने की वजह से उनके पिता को भी मनीषा का ये आइडिया पसंद नहीं आया और उन्होंने मना कर दिया।

सिंधु सभ्यता का इतिहास 

 फिर उन्होंने अपने पिता से जब डांस सीखने की इच्छा ज़ाहिर की तो उनके पिता ने उसके लिए भी मना कर दिया। मनीषा ने तब सोचा की यदि परमिशन ही मांगती रही तो पापा अलाउड नहीं करेंगे और मैं कभी मुंगेर से बाहर नहीं जा पाऊंगी। इसलिए उन्होंने अपने फादर को एक लेटर लिखा माफ़ कीजियेगा हमको और चुपचाप अपनी फ्रेंड के साथ कोलकाता भाग गयी। क्योंकि बिहार से वही पास पड़ता था और उन्हें वहाँ जाने वाली ट्रेन के बारे में भी नॉलेज थी।

मनीषा रानी का ट्रेन सफर

तब वो बस 16 साल की थी और इतनी फिअरलेस थी की बिना टिकट के हर जगह ट्रैवल कर लेती थी और यहाँ तक की ₹5 का प्लैटफॉर्म टिकट भी नहीं कटवाती थी और पकड़े जाने पर एक्टिंग करती थी, जैसे उनका टिकट कहीं खो गया है।

इतना ही नहीं उनका सोचना ये था कि बिना टिकट के यदि ट्रेन में किसी ने पकड़ लिया तो जेल में 4 घंटे बैठा होंगी। मनीषा कहती हैं कि उन्हें आज तक समझ नहीं आता कि उस टाइम उन्हें किसी बात का डर क्यों नहीं लगता था और उनके बिना बताये कोलकाता चले जाने पर उनके पिता ने उनसे 1 साल तक बात नहीं की।

मनीषा रानी शुरुआती केरियर

शहर कोलकाता जाकर मनीषा जीस घर में रही। वो बहुत बुरी कंडीशन में था। मनीषा कहती है की वो भले ही एक गरीब फैमिली से थीं पर उनका मुंगेर वाला घर इतना भी खराब हालत में नहीं था पर कोलकाता में उनके घर की ऐसी हालत थी कि उनके घर का एक मेंबर भी हैं।

 उसमें 1 दिन नहीं रह सकता और उस घर में इतने मच्छर थे की बाथरूम में भी मार्टिन लेकर उन्हें जाना पड़ता था। खैर, वहाँ जाकर उन्होंने बहुत काम ढूंडा जिससे वो किसी बड़े कोरियोग्राफर से डांस सीख सके। बस अब की फीस वहाँ बहुत ज्यादा थी। तब उन्होंने कोलकाता में कुछ दिन वेट्रेस की जॉब की तो कभी बैकग्राउंड डांसर की।

 

जब एक बार उनके पास  पैसा नहीं बचे तब उन्हें मोंटी नाम के एक लड़के ने बिहार के एक छोटे से गांव में डांस का ऑफर दिया, जो उनके घर मुंगेर से 2 घंटे की दूरी पर था। मनीषा ने जब देखा की वहाँ सब रिवीलिंग कपड़ों में आदमियों के सामने रात में डांस कर रहे हैं तो उन्होंने वहाँ डांस करने से मना कर दिया और उन्हें यह भी घबराहट दी कि उनके घर का कोई मेंबर उन्हें वहाँ ना देख लें।

 उसके बाद उन्हें एक दूसरी जगह 10 दिन तक डांस करना था पर वहाँ क्योंकि औरतें और बच्चे भी थे इसलिए उन्होंने वहाँ डांस करने को हाँ बोल दिया क्योंकि उन्हें पैसे भी चाहिए थे। मनीषा बताती हैं कि उन्होंने इतनी गरीबी पहले कभी नहीं देखी थी।

क्योंकि वो जहाँ इस बार गयी थी वहा का माहौल इतना खराब था और छोटे छोटे मिट्टी के मकान थे और बाथरूम में भी गेट की जगह साड़ी के पर्दे लगे रहते थे और वहाँ छेद में से लड़के झाँका करते थे। इतना ही नहीं लड़कियों ने डांस करते टाइम गंदी नजरों से देखते हैं जिसपर एक लड़की को मनीषा ने जब चप्पल दिखा दी तो उनके पीछे सारे आदमी लोग पढ़ने लगे थे पर वो उस टाइम रो गयी थी और उनके साथ वाले मेंबर्स ने उन्हें बचा लिया। खैर, मनीषा ने 10 दिन जैसे तैसे वहाँ काटे और जब मैनेजर से वह रुपये मांगने गई तो उसने बोला की 2 दिन और उन्हें डांस करना पड़ेगा।

इस पर मनीषा ने उनसे बोला की वो पैसे रख ले बस उन्हें जाने दें तो उन्होंने मनीषा को एक रूम में बंद कर दिया। तब मनीषा जैसे तैसे वहाँ से भागने में कामयाब तो रहीं पर उनका फ़ोन भी किसी ने ले लिया था और वो गांव मेन सिटी से बहुत ज्यादा 10-15 किलोमीटर दूर था और उस एरिया में बीच में कोई इंसान भी नहीं दिखता था। जैसे तैसे मनीषा को एक बस दिखी और वो उस पर लटक गई। फिर बिहार रेलवे स्टेशन पर जैसे जैसे जाकर उन्होंने अपने बॉयफ्रेंड को कॉल किया की उन्हें ₹500 भेज दें और उन्हें कोलकाता रेलवे स्टेशन पर लेने भी आ जाये। जब वो कोलकाता पहुंची तो वहाँ जाते ही वो बेहोश होकर गिर गई।

तब से उन्होंने ऐसी जगह ना जाने का डिसाइड कर लिया। कुछ टाइम कोलकाता रहकर वो बिहार फिर से आ गई और इस बार TikTok आ चुका था।

मनीषा रानी का tik tok केरियर

मनीषा ने तब बिना कुछ सोचे और बिना लोगों की बात सुने लगातार विडीओ जाना शुरू किया। तभी 1 दिन उन्होंने ऐसे ही अपनी आवाज में डायलॉग बोलकर वीडियो पोस्ट कर दिया और किस्मत से वो विडिओ वन मिलियन व्यूज़ ले गया। तब मनीषा को लगा कि जब बिना प्रिपरेशन के विडिओ इतना चल सकता है तो कन्टेन्ट प्रिपेर करके डालने की कोशिश करूँगी। और बस तभी से उनकी फैन फॉलोइंग टिकटॉक पर बढ़ने लगी और उन्हें पटना में इवेंट्स में जाने का मौका भी मिलने लगा।

मनीषा के फेम की वजह से एम् एक्स टकाटक पर उन्हें 30 वीडिओज़ पर मंथ के लिए 30,000 रूपये सैलरी का ऑफर मिला। मनीषा को लगा की ये 30 वीडियो की बात कर रहे हैं। मैं तो 60 वीडियो बनाकर दे दू कोई ₹30,000 दे दे तो बाद में उन्हें झिल्ली ऐप से ₹3,00,000 महीने का ऑफर आया और तब तो जैसे उनकी किस्मत ही बदल गई।

उनके विडीओ ज़की रीच इतनी ज्यादा थी कि वैन टीवी के शो गुड़िया हमारी सभी पे बारी पर उन्हें रोल करने का ऑफर मिला और मुंबई उन्हें लुक टेस्ट के लिए बुलाया गया और कर लिया गया और मनीषा ने उसमें 2 साल तक काम भी किया। ये उनका पहला टीवी शो था। मनीषा को लोग भी कहते थे और उन्हें भी तब लगने लगा था कि वो बिग बॉस के लिए बनी है।

पर जब तक वो लोगों से अप्रोच लगवाती रही उन्हें काफी फायदा उठाने वाले लोग मिलते रहे जो उन्हें होटेल रूम में बुलाया करते थे। पर मनीषा उनसे कभी मिलने नहीं गयी। पर उन्होंने एक दो बार ठोकर खाकर ही सीख लिया था कि भले ही बिग बॉस में जाने में 5 साल लग जाएं। पर जाउंगी तो अपनी मेहनत से ही और वो मानती हैं कि जब तक वो जमकर मेहनत ना करे तब तक भगवान उन्हें नहीं देते पर मेहनत करते ही उन पर मेहरबान हो जाते है।

 और लकीली उनकी मेहनत रंग लाई और बिग बॉस ओटीटी टू का ऑफर उनके विडीओ ज़की रीच इतनी ज्यादा थी कि वैन टीवी के शो गुड़िया हमारी सभी पे बारी पर उन्हें रोल करने का ऑफर मिला और मुंबई उन्हें लुक टेस्ट के लिए बुलाया गया और कर लिया गया और मनीषा ने उसमें 2 साल तक काम भी किया। ये उनका पहला टीवी शो था।

मनीषा रानी का सफल लाइफ

 मनीषा को लोग भी कहते थे और उन्हें भी तब लगने लगा था कि वो बिग बॉस के लिए बनी है। पर जब तक वो लोगों से अप्रोच लगवाती रही उन्हें काफी फायदा उठाने वाले लोग मिलते रहे जो उन्हें होटेल रूम में बुलाया करते थे। पर मनीषा उनसे कभी मिलने नहीं गयी। पर उन्होंने एक दो बार ठोकर खाकर ही सीख लिया था कि भले ही बिग बॉस में जाने में 5 साल लग जाएं। आगे से मिला और अब वो इस शो में धमाल मचा रही हैं।

मनीषा को साल 2022 में रेडिओ अड्डा एक्सीलेंस अवार्ड्स का बेस्ट ऐन्टेन अवॉर्ड और उसके अलावा एस इन फ्यूचर ऐंड बिज़नेस अवॉर्ड भी मिल चुका है। मनीषा अब तक अपनी लाइफ में 1415 लोगों को डेट कर चुकी है और वो दो सिरियस रिलेशनशिप में भी रह चुकी हैं। उनका लैस बॉयफ्रेंड बिहार से था। और अभी दुबई में एक बिज़नेस मैन है। पर उनका ब्रेक अप उनसे इसलिए हुआ क्योंकि वो मनीषा को रिवीलिंग कपड़े नहीं पहनने देना चाहता था।

मनीषा आज इतना पैसा कमा चुकी है की वो चाहे तो कार और बा ड़ा बंगला बना सकती है पर वो कहती हैं कि उन्हें खुशी खुद के लिए जीने में नहीं बल्कि अपने पापा, भाई, बहन और फैमिली के लिए जीने में मिलती है क्योंकि जहाँ उन्हें आज एक इंस्टाग्राम स्टोरी लगाने के ₹40,000 मिल जाते हैं वहीं उनके पापा मुश्किल से ₹15,000 महीना कमा पाते हैं। इसलिए उनका फोकस फिलहाल अपनी फैमिली के सपने पूरे करने पर है। मनीषा की नेटवर्क करोड़ों रुपये है और वो बिग बॉस से भी करोड़ों में इनकम कर रही है।